We are delivering all over India, but the deliveries might be delayed due to the COVID-19 restrictions. Thank you for supporting us in such tough times.

समस्या है तो समाधान भी है, प्रतिष्ठित ज्योतिषियों से पाएं ज्योतिष परामर्श

101.00

In stock

Category:

जन्म कुंडली में सबसे पूर्व लग्न और उसके बाद के भावों में पड़ने वाली राशि को देखा जाता है। उसके बाद सभी ग्रहों की विभिन्न भावों में स्थिति, उनके पारस्परिक पहलुओं और युति का विश्लेषण को। परामर्श के दौरान आप ज्योतिषी से अपने जीवन के विभिन्न महत्वपूर्ण पक्ष जैसे की :

किसी रिश्ते की शुरुआत या अंत
एक नई नौकरी ढूँढना
विवाह या संतान का समय
पारगमन की मदद, दशा के बारे में जा सकते हैं।
प्रसिद्ध और विद्वान ज्योतिषी आपकी जन्म कुंडली का विश्लेषण करके सभी कष्टों से मुक्ति हेतु आपकी सहायता करेंगे। जन्मकुंडली आपके सभी ग्रह-नक्षत्रों की दशा दर्शाती है। जिससे ज्ञात होता है कि वे किस भाव में हैं और कितनी डिग्री पर हैं। सबसे पहले यह आँकलन करना आवश्यक है कि आपका लग्न (प्रथम भाव), सूर्य और चंद्रमा किस-किस राशि में है। आपकी, आपके परिवार  या आपके परिजनों की जन्म कुंडली से आपको उनके जन्म रहस्य का विस्तृत विवरण का पता चलेगा।

यदि, आपके पास कोई ऐसा साधन हो जिससे आप यह समझ सकें कि कोई व्यक्ति किस प्रकार की प्रवृत्ति रखता है तो आप उसके प्रति समझ से कार्य ले सकेंगे। इस अनूठे काम से आपके सम्बन्धों में सुधार व जीवन में सकारात्मकता आएगी। इस चार्ट का अध्ययन आपके जीवन को सरल रूप से सार्थक बनाने में सहायक होगा। सबसे अच्छी बात तो यह है कि आप घर से ही ऑनलाइन यह चार्ट प्राप्त कर सकते हैं और अपने अमूल्य जीवन को घर बैठे ही सम्भाल सकते हैं।

Main Menu